हरियाणा: जेजेपी में शामिल हुए तेज बहादुर यादव, खट्टर के खिलाफ किया लड़ने का ऐलान

0

बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में रविवार को जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) का दामन थाम लिया है। हाल ही में एक वायरल विडियो में तेज बहादुर यादव ने हरियाणा विधानसभा के दंगल में उतरने का ऐलान किया था।

सैनिकों के लिए खराब खाने की क्वालिटी वाला विडियो बनाकर चर्चा में आए बीएसएफ के पूर्व जवान ने वाराणसी से पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनावी बिगुल फूंक कर सुर्खियां बटोरी थी। वह अब हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले जननायक जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं।

बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में रविवार को जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) का दामन थाम लिया है। हाल ही में एक वायरल विडियो में तेज बहादुर यादव ने हरियाणा विधानसभा के दंगल में उतरने का ऐलान किया था। उन्होंने करनाल की सीट से मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के खिलाफ ताल ठोकने की बात की है। अब यह देखना होगा कि जेजेपी उन्हें किस सीट से मैदान में उतारती है।

गौरतलब है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में तेज बहादुर यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से निर्दलीय पर्चा भरा था। नामांकन के आखिरी दिन समाजवादी पार्टी ने उन्हें अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया लेकिन दूसरे ही दिन उन्हें स्थानीय चुनाव आयोग से नोटिस मिल गया। उन्हें चुनाव आयोग से अपनी उम्मीदवारी के लिए एनओसी (नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट) लाने के लिए कहा गया। उनके डॉक्युमेंट्स पूरे नहीं होने की वजह से वह चुनाव नहीं लड़ पाए।

तेज बहादुर ने याचिका दाखिल करके अपने नामांकन पत्र को नियम विरुद्ध खारिज करने को आधार बनाया। उन्होंने प्रशासन पर नामांकन दबाव में गलत आधार पर खारिज करने का भी आरोप लगाया। इसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी लोकसभा चुनाव की वैधता की चुनौती देते हुए हाई कोर्ट में याचिका डाली थी।

स्रोत : नवभारत टाइम्स

LEAVE A REPLY